Friday, 22 December 2017

शुगर की कामयाब दवा

सिद्ध आयुर्वेदिक
094178 62263

         शुगर की कामयाब दवा

जिन की शुगर 200 से उपर रहती है
वह यह दवा ऐपल के सिरके से ले ।

शुगर 2 मै दिन समान्य हो जाएगी  ।

आप ने आधा ग्लास पानी लेना है
और 2 चम्मच ऐपल सिरका लेना है ।

धोलकर सिरका पानी के साथ एक
चम्मच शुगर की दवा लेनी है ।

2 दिन में शुगर समान्य हो जाएगी ।

सिरका बजार में आम मिल जाता है ।

(यह दवा कोरिया से भी मंगवा सकते है सिरका आप को खुद लेना होगा )

*त्रिफला चूर्ण-400 ग्राम
*इन्द्रजो कडवा या
  इन्द्रजो तल्ख़ 250 ग्राम
*इंद्राण अजमायन-250ग्राम
*मेथी का दना - 200ग्राम
*कलौंजी 200 ग्राम
*तेज पत्ता ------- 200 ग्राम
*जामुन की गुठली -200 ग्राम
*बेलपत्र के पत्ते - 200 ग्राम
*गुडमार -130 ग्राम
*नीम की गुठली  130 ग्राम
*तुलसी की पत्तियाँ- 130 ग्राम
*सदाबहार की पत्तियाँ -130 ग्राम
*वंशलोचन -130 ग्राम
*जायफल -50 ग्राम
*जावित्री -50ग्राम
*चार गोंद -50 ग्राम
*छोटी इलायची -20 ग्राम
*कालीमिर्च- 50

एलोवेरा रस 500 ग्राम

सभी चूर्ण को एलोवेरा रस में मिलाकर सांय में
सुखाए ।

सेवन विधि - सुबह -शाम  3 से 5  ग्राम पानी से लेते रहे ।

***
खानपान में करें परहेज

-अधिक चावल खानें से बचें। चीनी, आलू का सेवन कम करें। मीठे फलों से दूर रहें। मिठाई से बचें।

गुड़, आम, इमली की खटाई, आलू, अरबी, बैंगन, शक्कर, सैक्रिन, सभी मीठे फ़ल, गाजर, कद्दू (पेठा), गेहूं, चावल, तले हुए भोजन, उड़द, मसूर दाल, मांस- मछली, अण्डा-मुर्गा, सभी मादक द्र्व्य, चाय, काफ़ी, तेज मिर्च,अश्लिल-उत्तेजक साहित्य, टीवी, फ़िल्में देखना,अधिक रात्रि तक जागना,औरत प्र्संग आदि से मधुमेही को अवश्य बचना चाहिए । अन्यथा लाभ नहीं होगा।
-***

मधुमेह केरोगी इसका करें सेवन

जौ का आटा 6 किलो में चने का बेसन 2 किलो मिला कर इसकी रोटी खायें ।
***

पत्तागोभी,पालक,मेथी और मेथी दाने का साग, करेला,तुरई (तोरी),गिलकी, घीया (लोकी),टिंडा, परवल,कन्दूरी, बथुआ, चौलाई, मुंग, अरहर,चने की दाल, भुने हुए चने,चने के बेसन से छाछ में बनाई हुई कढी,जीरा प्याज तथा लहसुन से छौंकी हुई, अकेली छाछ,पका हुआ पीला नींबू,नींबू का अचार थोडी मात्रा में, फ़ीका दूध, घी,थोडा मक्खन,जामुन फ़ल,कैथ[कबीट]के गुद्दे की चटनी खा सकते हैं। पथ्य के बिना औषधि सेवन बेकार है। लाभ का कोई चांस नहीं है।

-जौ और गेहूं की रोटी खाएं। मूंग, मसूर और चने की दाल का सेवन करें। करेला, बबूल के फले खाएं।सिद्ध आयुर्वेदिक
094178 62263

         शुगर की कामयाब दवा

जिन की शुगर 200 से उपर रहती है
वह यह दवा ऐपल के सिरके से ले ।

शुगर 2 मै दिन समान्य हो जाएगी  ।

आप ने आधा ग्लास पानी लेना है
और 2 चम्मच ऐपल सिरका लेना है ।

धोलकर सिरका पानी के साथ एक
चम्मच शुगर की दवा लेनी है ।

2 दिन में शुगर समान्य हो जाएगी ।

सिरका बजार में आम मिल जाता है ।

(यह दवा कोरिया से भी मंगवा सकते है सिरका आप को खुद लेना होगा )

*त्रिफला चूर्ण-400 ग्राम
*इन्द्रजो कडवा या
  इन्द्रजो तल्ख़ 250 ग्राम
*इंद्राण अजमायन-250ग्राम
*मेथी का दना - 200ग्राम
*कलौंजी 200 ग्राम
*तेज पत्ता ------- 200 ग्राम
*जामुन की गुठली -200 ग्राम
*बेलपत्र के पत्ते - 200 ग्राम
*गुडमार -130 ग्राम
*नीम की गुठली  130 ग्राम
*तुलसी की पत्तियाँ- 130 ग्राम
*सदाबहार की पत्तियाँ -130 ग्राम
*वंशलोचन -130 ग्राम
*जायफल -50 ग्राम
*जावित्री -50ग्राम
*चार गोंद -50 ग्राम
*छोटी इलायची -20 ग्राम
*कालीमिर्च- 50

एलोवेरा रस 500 ग्राम

सभी चूर्ण को एलोवेरा रस में मिलाकर सांय में
सुखाए ।

सेवन विधि - सुबह -शाम  3 से 5  ग्राम पानी से लेते रहे ।

***
खानपान में करें परहेज

-अधिक चावल खानें से बचें। चीनी, आलू का सेवन कम करें। मीठे फलों से दूर रहें। मिठाई से बचें।

गुड़, आम, इमली की खटाई, आलू, अरबी, बैंगन, शक्कर, सैक्रिन, सभी मीठे फ़ल, गाजर, कद्दू (पेठा), गेहूं, चावल, तले हुए भोजन, उड़द, मसूर दाल, मांस- मछली, अण्डा-मुर्गा, सभी मादक द्र्व्य, चाय, काफ़ी, तेज मिर्च,अश्लिल-उत्तेजक साहित्य, टीवी, फ़िल्में देखना,अधिक रात्रि तक जागना,औरत प्र्संग आदि से मधुमेही को अवश्य बचना चाहिए । अन्यथा लाभ नहीं होगा।
-***

मधुमेह केरोगी इसका करें सेवन

जौ का आटा 6 किलो में चने का बेसन 2 किलो मिला कर इसकी रोटी खायें ।
***

पत्तागोभी,पालक,मेथी और मेथी दाने का साग, करेला,तुरई (तोरी),गिलकी, घीया (लोकी),टिंडा, परवल,कन्दूरी, बथुआ, चौलाई, मुंग, अरहर,चने की दाल, भुने हुए चने,चने के बेसन से छाछ में बनाई हुई कढी,जीरा प्याज तथा लहसुन से छौंकी हुई, अकेली छाछ,पका हुआ पीला नींबू,नींबू का अचार थोडी मात्रा में, फ़ीका दूध, घी,थोडा मक्खन,जामुन फ़ल,कैथ[कबीट]के गुद्दे की चटनी खा सकते हैं। पथ्य के बिना औषधि सेवन बेकार है। लाभ का कोई चांस नहीं है।

-जौ और गेहूं की रोटी खाएं। मूंग, मसूर और चने की दाल का सेवन करें। करेला, बबूल के फले खाएं।

No comments:

Post a Comment

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण