Friday, 26 January 2018

कायाकल्प चुर्ण -शरीर का पूरा कायाकल्प करने वाला सदाबहार चूर्ण

 सिद्ध आयुर्वेदिक
कायाकल्प चूर्ण
सभी रोग के लिए
सदैव युवा रखने वाला,
शरीर का पूरा कायाकल्प
करने वाला सदाबहार चूर्ण
★★★
कायाकल्प चुर्ण वात पित्त कफ़
को संतुलित करता है।
★★★
किसी भी नशे को छुड़ाने में कारगर है काया क्ल्प चूर्ण।
★★★

आज बढ़ते हुए तनाव, मानसिक थकान, चिंता, शारीरिक रोग ये सब असमय ही इंसान को बूढा बना देती हैं। भरी जवानी में इंसान बूढा नज़र आने लगता हैं। अगर आप अपना योवन कायम चाहते हैं तो आपको यथासंभव तनाव, चिंता को त्यागना होगा।
कहा भी जाता हैं के चिंता से बड़ा कोई शारीरिक शत्रु नहीं हैं। योग करे, ध्यान करे, दोस्तों से मिले, बच्चो और बुज़ुर्गो के साथ समय बिताये, किसी क्लब का सदस्य बनिए, हफ्ते में एक दिन गौशाला जाइए, किसी गरीब को खाना खिलाये। इस से आपकी तनाव और चिंता भाग जाएगी।
इसके साथ हम आज आपको बताने जा रहे हैं आयुर्वेद के एक ऐसे सदाबहार चूर्ण के बारे में जिसको खा कर आप सदा अपने आप को जवान और तंदुरुस्त महसूस करेंगे। बस इसको अपने दैनिक जीवन में शामिल करे।
●●●

क्या है कायाकल्प चूर्ण
(What is Kayakalpa churan)

कायाकल्प चुर्ण आयुर्वेद की एक पुरानी तकनीक है जिसका प्रयोग दक्षिण भारत के संतो द्वारा जीवन में शक्तियों को बढ़ाने के लिए किया जाता था।

कायाकल्प चुर्ण के तीन मुख्य लक्ष्य
(Three main Objective of Kayakalpa churan)
कायाकल्प चुर्ण के वैसे तो कई फायदे हैं

लेकिन इसके तीन मुख्य लक्ष्य हैं-

*नशों की कमजोरी को दूर करता है।
• व्यक्ति की सुंदरता एंव स्वास्थ्य के साथ-साथ लंबे समय तक उन्हें जवानी को बरकरार बनाए रखना।
• नेचुरल एजिंग प्रोसेस को धीमा करना
• आयु बढ़ाना


●●
क्या है काया कल्प चूर्ण में
आए जाने -:::

*त्रिफला -250 ग्रा
*इंद्राण से बनी
हुई अजमायन-200 ग्राम
*गिलोय चूर्ण-100 गरा
*अर्जुन छाल चूर्ण -100 ग्राम
* ब्रह्मा बूटी चूर्ण- 100 ग्राम
*शंखपुष्पी चूर्ण-100 ग्राम
*कलौंजी -100 ग्राम
*आवला चूर्ण-100 ग्राम
*नसांदर -100 ग्राम
*अपामर्ग -50 ग्राम
* जटामांसी -50 ग्राम
* सत्यनाशी -50 ग्राम
* काला नमक -50 ग्राम
*सेंधानमक -50 ग्राम
*ऐलोवैरा रस -500 ग्राम


सभी चूर्ण को एलोवेरा रस में मिलाकर
सांय मे सुखाय ।


जब सुख जाए तब आप का काया कल्प
चूर्ण बनकर तैयार हो गया है ।


सेवन विधि - अगर आप बिमार है तो दिन एक -एक चम्मच 3 बार ले ।
अगर आप सदा स्वास्थ्य रहना चाहते है तो एक चम्मच
सुबह खाली पेट ले ।

●●
काया कल्प चूर्ण के Multipurpose Benifits है

● अफस्फीत शिराएं (varicose veins)  -          इस रोग के हो जाने पर रोगी व्यक्ति के पैरों में दर्द के साथ थकान तथा भारीपन महसूस होने लगता है। रोगी के टखने में सूजन हो जाती है। रात के समय में रोगी के पैरों में ऐंठन होने लगती है। इस रोग से पीड़ित रोगी की त्वचा का रंग बदलने लगता है। इस रोग के कारण स्टैटिस डर्मेटाइटिस तथा शरीर के नीचे के अंगों में सेल्युलाइटिस रोग हो जाता है।
इस रोग में
कायाकल्प चुर्ण आप 90 दिन उपयोग करे ।

सेवन विधि -सुबह खाली पेट 1 चम्मच पानी से लेते रहे।
दवा लेने के बाद 1 घंटे तक कुछ खाए पिएं नही।

रात को सोने से 30 मिनट पहले दवा ले।
खयाल रखें रात को दवा खाने से 50 मिनट बाद ही ले।


●पथरी 5 mm तक की 3 दिन में गुर्दे से बाहर निकल जाती है।
कैसे ले- 50 मिलीलीटर नीबू रस ले 300 ग्राम पानी मे मिलाकर 5 ग्राम दवा ले।
दिन में 4 बार दवा ले।
जब दवा लेगे दर्द तत्काल मिट जाएगा।


****
● नसों की कमजोरी में रामबाण है काया कल्प योग।
●हर प्रकार की एलर्जी में फायदा। जैसे :-
नाक में पानी, छीके, पुराना जुकाम, खाँसी, गले की एलर्जी।
● थकान कभी महसूस नही करेंगे। एक उत्साह होगा काया कल्प लेने से।
● त्वचा की सलवटे दूर होती हे, त्वचा के रंग में निखार आता हे ,चर्म रोग दूर होते हे ,त्वचा कांतिमय व् ओजमय बनती हे
● यूरिया बढा हो काया कल्प रामबाण की भांति
काम करता है ।
●ओवरी में सूजन ',पानी भरना' अंडा न बनना।,मासिक धर्म कम आना ठीक करेगी यह काया कल्प।
● शरीर मे गांठे हो तो काया कल्प रामबाण की
भांति काम करता है ।
● माइग्रेन में जबरदस्त लाभ होगा।
● बालो की वृद्धि तेजी से होती है,
● अनावश्यक चर्बी घटेगी.
● पुरानी कब्ज से मुक्ति मिलेगी
● खून साफ़ होगा
● रक्त नलिकाए साफ़ होगी.
● शरीर के समस्त दर्द 7 दिन ठीक होगे ।
● युरिक एसिड जड़ से खत्म होगा।
● शरीर के कोने कोने में जमी गंदगी इसके नियमित सेवन से पेशाब के द्वारा बाहर निकल जायेगी
नया शुद्ध खून बनेगा.
◆ औरतों की पीरियड की समस्या हो तो काया कल्प
रामबाण जैसा काम करता है ।
◆ शरीर सुडोल ,मजबूत व आकर्षक बनता हे
बल -बुद्धि – वीर्य की वृद्धि करता है ।
● नपुसंकता दूर होती है।
● माहलाओं में सेक्स की कमी को पूरा करेगा काया क्ल्प चूर्ण
● कब्ज दूर होती हे , जठराग्नि व् पाचन शक्ति बढती है। और बादी /खूनी बवासीर खत्म होगी ।
● व्यक्ति का तेज बढ़ता हे ,
● बुढ़ापा जल्दी नहीं आता
दात मजबूत होते है।
● हड्डीया मजबूत होती है।
● रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है।
● ह्रदय की कार्यक्षमता बढती है।
◆ कोलेस्ट्रोल बढ़ता है तो समान्य हो जाएगा ।
●आलोपथिक द्वइयो के साइड इफ़ेक्ट कम करता है।
● यह चूर्ण आयुष्य वर्धक है ।
● आयु बढ़ेगी
● घठियावादी हमेशा के लिए दूर होती है।
◆ Diabetes काबू में रहती है।
● कफ से मुक्ति मिलती है।
परहेज क्या करें – अंडा, मांस, मछली, नशीले पदार्थो का सेवन एवं तली हुई वस्तु औगर फास्ट फूड वर्जित हैं

.
सिद्ध आयुर्वेदिक
What's पर SMS करे ।
09417862263

और जानने के लिए के
Email पर लिखे।

Email =sidh ayurveda1@gmail.com

1 comment:

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण