Sunday, 4 February 2018

सिद्ध थाइरायड नाशक कल्पचुर्ण -हर प्रकार के थाइरायड की रामबाण दवा


यह दवा हाइपर थायराइड और हाइपो थायराइड  दोनों प्रकार के थायराइड को ठीक करती है ।
★★
हाइपर थायराइड के लक्षण
वजन कम होना,हार्ट बीट तेज होना,पसीना जादा आना,हाथ और पैरों में कप कपी होना आदि हैं ।
★★★

    सिद्ध थाइराइड नाशक कल्पचुर्ण - संपूर्ण योग
यह नुस्खा किसी वैद की रेख देख में तैयार करे।

कचनार छाल        300 ग्राम
हार सिंगार फूल     250 ग्राम
इंद्रायण अजवाइन  200 ग्राम
गिलोय चुर्ण          125 ग्राम
निर्गुंडी बीज          125 ग्राम
हल्दी                    125 ग्राम
सौंठ                     125 ग्राम
मलॅठी चुर्ण            100 ग्राम
डाल चीनी             100 ग्राम
चित्रक मूल            100 ग्राम
काली मिर्च             50 ग्राम
सभी को कूटपीस कर चुर्ण बनाए
फिर चुर्ण को 200 ग्राम गिलोय रस और 400 ग्राम एलोवेरा रस भावना दे धूप में सुखाएं।
सेवन विधि -2 ग्रा से 5 ग्राम दिन में 3 बार
                 दूध के साथ लें ।

                        "★★★
साथ यह भी ले -

दिन मे 2 बार दही 200 -200 ग्राम जरूर सेवन करे ।
सुबह और रात को सोते समय 5 बादाम 1 अखरोट सेवन करे ।

साबित दालें ज्यादा इस्तेमाल करे,
गऊ मूत्र 50 मिलीलीटर रोजाना सेवन करे ।

परहेज -

तली हुई चीजे बिल्कुल इस्तेमाल न करे ।
मास अंडे प्रयोग न करे यह थाइरायड में जहर
समान है ।

साथ मे यह जरूर करे

1. हल्दी दूध: थायराइड कण्ट्रोल करने के लिए आप रोजाना दूध में हल्दी को पका कर पिए। अगर हल्दी वाला दूध न पिया जाये तो हल्दी को भून कर इसका सेवन करे।

2. लौकी का जूस: रोजाना सुबह खली पेट लौकी का जूस पिने से भी थाइरोइड खत्म करने में मदद मिलती है। जूस पिने के आधे घंटे तक कुछ खाये पिए नहीं।

3. तुलसी और एलोवेरा: दो चम्मच तुलसी के रास में आधा चम्मच एलोवेरा जूस मिला कर सेवन करना भी इस बीमारी से छुटकारा पाने का उत्तम उपाय है।

4. लाल प्याज: प्याज को बीच से काट कर दो टुकड़े कर ले और रात को सोने से पहले थायराइड ग्रंथि के आस पास मसाज करे। इसके बाद गर्दन से प्याज का रस को धोये नहीं।

5. बादाम और अखरोट: बादाम और अखरोट में सेलीनीयम तत्व मौजूद होता है जो  थायराइड के इलाज में फायदा करता है। इस के सेवन से गले की सूजन से भी आराम मिलता है। हाइपोथायराइड में ये उपाय जादा फायदा करता है।

6. अश्वगंधा: रात को सोते वक़्त एक चम्मच अश्वगंधा चूर्ण गाय के गुनगुने दूध के साथ सेवन करे।

7 .एक्सरसाइज: रोजाना आधा घंटा एक्सरसाइज करे, इससे थाइरोइड बढ़ता नही है और कंट्रोल में रहता है। 

ऑनलाइन मंगवाए
What's 94178 62263


No comments:

Post a Comment

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण