Wednesday, 28 February 2018

★गुर्दे की खराबी में रामबाण★ ■कायाकल्प चुर्ण■

सिद्ध अयूर्वादिक

             ★गुर्दे की खराबी में रामबाण★
                   ■कायाकल्प चुर्ण■


   गुर्दे खराब हो और डायलिसिस ट्रीटमेंट ले रहे तो 21 दिन कायाकल्प चुर्ण ले ।आप को डायलिसिस ट्रीटमेंट
की जरूतर नही पड़ेगी।

गुर्दे हमारे शरीर में खून साफ़ करने और शरीर से विषेले पदार्थ पेशाब के रास्ते बाहर निकालने का काम करते है, इससे शरीर के सभी अंग सही तरीके से काम करने में मदद मिलती है।


 इसके इलावा ब्लड प्रेशर, नया खून बनाना, पानी और कैल्शियम का नियंत्रण बनाए रखना भी किडनी के कुछ अन्य काम है। अगर किडनी में कोई इन्फेक्शन या फिर कोई बीमारी हो जाती है तो ये सही से काम नहीं कर पाती जिस कारण शरीर को कई दूसरे रोग होने की संभावना बढ़ जाती है।

गुर्दे सही तरीके से काम नही कर रहे तो कायाकल्प चुर्ण आप के गुर्दे रोग में सहायता करेगा।

क्योंकि  कायाकल्प चुर्ण आयुर्वेद की एक पुरानी तकनीक है जिसका प्रयोग दक्षिण भारत के संतो द्वारा जीवन में शक्तियों को बढ़ाने के लिए किया जाता था।


कायाकल्प चुर्ण के तीन मुख्य लक्ष्य
(Three main Objective of Kayakalpa churan)

कायाकल्प चुर्ण के वैसे तो कई फायदे हैं
लेकिन इसके तीन मुख्य लक्ष्य हैं-

*नशों की कमजोरी को दूर करता है।
• व्यक्ति की सुंदरता एंव स्वास्थ्य के साथ-साथ लंबे समय तक उन्हें जवानी को बरकरार बनाए रखना।
• नेचुरल एजिंग प्रोसेस को धीमा करना
• आयु बढ़ाना
●●
क्या है काया कल्प चूर्ण में
आए जाने -:::

*त्रिफला -250 ग्रा
*इंद्राण से बनी
हुई अजमायन-200 ग्राम
*गिलोय चूर्ण-100 ग्राम
बेल 200 ग्राम
*अर्जुन छाल चूर्ण -100 ग्राम
* ब्रह्मा बूटी चूर्ण- 100 ग्राम
*शंखपुष्पी चूर्ण-100 ग्राम
*कलौंजी -100 ग्राम
*आवला चूर्ण-100 ग्राम
*नसांदर -100 ग्राम
*अपामर्ग -50 ग्राम
* जटामांसी -50 ग्राम
* सत्यनाशी -50 ग्राम
* काला नमक -50 ग्राम
*सेंधानमक -50 ग्राम
*ऐलोवैरा रस -500 ग्राम

सभी चूर्ण को एलोवेरा रस में मिलाकर
सांय मे सुखाय ।

जब सुख जाए तब आप का काया कल्प
चूर्ण बनकर तैयार हो गया है ।

सेवन विधि - गुर्दे के रोगी दिन में 3 बार पानी से ले।

★★

         किडनी को स्वस्थ रखने के लिए
               ★आहार और परहेज★

नमक का सेवन जादा ना करे।

बाजार में मिलने वाला डब्बा बंद खाने से दूर रहे।

साफ पानी पिए और अगर पानी साफ ना मिले तो उबाल कर पिए।

किडनी के लिए डाइट हेल्थी होनी चाहिए और फास्ट फुड खाने से परहेज करे। अपने आहार में फलों और सब्जियों का सेवन अधिक करे।

अगर दस्त, उल्टी या बुखार हुआ हो तो शरीर में पानी की कमी ना हो, इसलिए प्रयाप्त मात्रा में पानी पिए।

धूम्रपान शराब और किसी भी प्रकार के नशे से दूर रहे।
गुर्दे के रोग से बचने के लिए ज़रूरी है की आप किसी भी तरह के इन्फेक्शन से बचे रहे।

ज्यादा तनाव लेने से बचे और स्वस्थ जीवनशैली अपनाये।
शरीर का वजन जादा ना बढ़ने दे।

दर्द निवारक दवा का सेवन कम से कम करे, क्योंकि ये मेडिसिन किडनी को नुकसान करती है।


कायाकल्प चुर्ण online मंगवा सकते हैं।

किसी भी शरीरक  स्मयसा के लिए 
contact करे
Whats 94178 62263
Email-sidhayurveda1@gmail.com
http://www.ayurvedasidh.blogspot.com/

No comments:

Post a Comment

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण