Monday, 21 January 2019

सिद्ध स्वाइन फ्लू नाशक कल्पचुर्ण-सिद्ध स्वाइन फ्लू नाशक काढ़ा

  

स्वाइन फ्लू के लक्षण
स्वाइन फ्लू की ऊष्मायन अवधि एक से चार दिनों (लक्षण प्रकट होने वाला समय) की होती हैं। इसके लक्षण इन्फ्लूएंजा (फ्लू) के समान हैं। इसके लक्षणों में शामिल है :

बुख़ार●सिरदर्द●नाक बहना●गले में खराश●खांसी की तकलीफ या सांस फूलना●भूख में कमी●दस्त या उल्टी

●गिलोय- लगभग 50 इंच लम्बा तना कुटा हुआ
●मुनक्का    -10 नग
●छुहारे        -5 नग
●तुलसी।      - 11 पत्ते
●चिरायता      --3 ग्राम
●दालचीनी।     -3 ग्राम
●सोंठ             --2 ग्राम
●हल्दी            -2 ग्राम
●छोटी पीपल   - 3 नग कुटी
●लौंग               - 3 नग कुटी
●बड़ी इलायची - एक कुटी हुई
●गुड देसी स्वादानुसार
सब सामग्री कूटकर 6 ग्लास पानी मे उबाले।
3 ग्लास बाकी रहने पर दिन 4 बार गर्म चाय की भांति सेवन करे।
●3 पूर्ण दिन आराम करें।
●घर से बाहर न निकले।
            ◆◆◆
नोट करें।
इसको पीने के बाद ओढ़ कर लेट रहें शरीर में ठंडी हवा न लगने दें घंटे भर और कुछ खाना पीना नहीं. ।
कितना भी कठिन जकड़ा जुकाम फ्लू हो सब ठीक हो जाता है. स्वाइन फ्लू में भी फायदा होगा.
◆◆◆
              गिलोय से बनी
            स्वाइन फ्लू की दवा
      स्वाइन फ्लू नाशक कल्पचुर्ण 
यह दवा स्वाइन फ्लू,टाइफाइड, डेंगू, चिकन गुनिया,दिमागी बुखार, वायरल फीवर और मलेरिया।किसी भी प्रकार का  बुखार और हैपेटाटस ए बी स हो या डेंगू बुखार हो..यह दवा रामबाण है यह समान पन्सारी से सुलभ मिल जाता है कोरियर से मँगवा सकते हैं।
और भी फ़ायदे है।
     3 ग्राम दवा 5000 डेंगू cell{ wbc} निर्मित करती है
बढ़े हुए wbc को समानता देती हैं
       स्वाइन फ्लू नाशक कल्पचुर्ण
गिलोय चूर्ण 100 ग्राम
आंवला चूर्ण 100 ग्राम
छोटी हरड़ 100 ग्राम
सतावर      100 ग्राम
तुलसी पाचांग-100 ग्राम 
चरायता चूर्ण 100 ग्राम
अजमायण-100 ग्राम
मलॅठी-50 ग्राम
सौंठ-50 ग्राम
काली मिर्च -10 ग्राम
सभी  चूर्ण को मिलाकर 250 ग्राम गिलोय रस में भावना दे।

दिन मे 4 बार  2-2 ग्राम  3-3 घंटे बाद लेते रहे । साथ मे दुध भी जरूर ले । साथ काढ़ा का सेवन करे।
स्वाईन  मे  लगातार 3 दिन दवा ले ।
             
  Online मंगवाए
      What पर पूरी जानकारी ले
            94178 62263

No comments:

Post a Comment

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण