Tuesday, 22 October 2019

सिद्ध कब्जहर गोली-कब्ज का घरेलू योग


हरड़            10 ग्राम,
छोटी पीपल  10 ग्राम
अजवाइन    10 ग्राम
बेल चुर्ण      10 ग्राम
सौंफ           10 ग्राम
को लेकर पीसकर थूहर के दूध में मिलाकर छोटी-छोटी गोलियां बनाकर प्रतिदिन सुबह 1 या 2 गोली पानी के साथ  खाने से पेट का फूलना और कब्ज दूर होती है।
                   ■हम आप की सेवा में है■
         ◆ किसी भी शरीरक  स्मयसा के लिए◆
          ●निशुल्क सिद्घ अयूर्वादिक सलाह ले●
                 Whats 94178 62263
         Email-sidhayurveda1@gmail.com
        Gmail-sidhayurveda1@gmail.com


सिद्ध महाशक्ति योग-सोना युक्त शक्राणु कमजोरी के लिए


                           सोना युक्त
                सिद्ध महाशक्ति कल्पचुर्ण   
फायदे-शक्राणु विर्दी, खून का बनना,शीघ्रपतन, धातु कमजोरी, मर्दाना कमजोरी, नशों की कमजोरी, वीर्य का पतलापन, सभी रोगों में लाभदायक और कारगर।

जो व्यक्ति यौन संबन्ध नहीं बना पाता या जल्द ही शिथिल हो जाता है वह नपुंसकता का रोगी होता है। इसका सम्बंध सीधे जननेन्द्रिय से होता है। इस रोग में रोगी अपनी यह परेशानी किसी दूसरे को नहीं बता पाता या सही उपचार नहीं करा पाता मगर जब वह पत्नी को संभोग के दौरान पूरी सन्तुष्टि नहीं दे पाता तो रोगी की पत्नी को पता चल ही जाता है कि वह नंपुसकता के शिकार हैं। इससे पति-पत्नी के बीच में लड़ाई-झगड़े होते हैं और कई तरह के पारिवारिक मन मुटाव हो जाते हैं बात यहां तक भी बढ़ जाती है कि आखिरी में उन्हें अलग होना पड़ता है।

कुछ लोग शारीरिक रूप से नपुंसक नहीं होते, लेकिन कुछ प्रचलित अंधविश्वासों के चक्कर में फसकर, सेक्स के शिकार होकर मानसिक रूप से नपुंसक हो जाते हैं मानसिक नपुंसकता के रोगी अपनी पत्नी के पास जाने से डर जाते हैं। सहवास भी नहीं कर पाते और मानसिक स्थिति बिगड़ जाती है।


कारण

नपुंसकता के दो कारण होते हैं- शारीरिक और मानसिक। चिन्ता और तनाव से ज्यादा घिरे रहने से मानसिक रोग होता है। नपुंसकता शरीर की कमजोरी के कारण होती है। ज्यादा मेहनत करने वाले व्यक्ति को जब पौष्टिक आहार नहीं मिल पाता तो कमजोरी बढ़ती जाती है और नपुंसकता पैदा हो सकती है। हस्तमैथुन, ज्यादा काम-वासना में लगे रहने वाले नवयुवक नपुंसक के शिकार होते हैं। ऐसे नवयुवकों की सहवास की इच्छा कम हो जाती है।

लक्षण :

मैथुन के योग्य न रहना, नपुंसकता का मुख्य लक्षण है। थोड़े समय के लिए कामोत्तेजना होना, या थोड़े समय के लिए ही लिंगोत्थान होना-इसका दूसरा लक्षण है। मैथुन अथवा बहुमैथुन के कारण उत्पन्न ध्वजभंग नपुंसकता में शिशन पतला, टेढ़ा और छोटा भी हो जाता है। अधिक अमचूर खाने से धातु दुर्बल होकर नपुंसकता आ जाती है।

बाजीकरण योग

●सफेद मूसली -100 ग्राम
●कीकर फली -100 ग्राम (बीज रहित)
●अश्वगंधा -100 ग्राम
●सतावरी-100  ग्राम
●गोखरू-100 ग्राम
●जयफल -100 ग्रा ऐसीम
●जामुन - 100 ग्राम
 की गुठली
●कौंच के - 100ग्राम
  बीज के चूर्ण
●तालमखाना-50 ग्राम
●गिलोय चुर्ण-50 ग्राम
●सफेद जीरा-50ग्राम
●सेमल का चूर्ण -50ग्राम
●बबूल गोंद-50 ग्राम
●4 मगज-50ग्राम
●सालममिश्री-50ग्राम
●सालम पंजा-50ग्राम

सभी को मिलाकर चुर्ण बनाए।
सुबह शाम 5-5 ग्राम दूध के साथ ले।

● इसका इस्तेमाल दो महीने तक विस्तारपूर्वक करने से इससे काफी अधिक फायदा मिलता है।

●यह वीर्य को अधिक गाढ़ा बनाता है।

यह रात को होने वाले स्वप्न रोग, वीर्य का जल्दी गिरना और यौनांग के ढीलेपन एवं कमजोरी जैसे रोगों को समाप्त कर देता है-

इससे हर प्रकार की शरीरक कमजोरी दूर होती है और
सुबह-शाम लेने से बाजीकरण यानी संभोग शक्ति ठीक होती है और नपुंसकता भी दूर हो जाती है।

यह दवा कोरियर से मंगवा सकते हैं आप।
सिद्ध आयुर्वेदिक
Whats 9417863263.
Email-sidhayurveda1

सिद्ध नारी पीरियड कल्पचुर्ण-पीरियड को जल्दी लाने, बंद होने पर, कष्ट पूर्ण होने पर, शरीर कष्ट होने पर और अनिमियत पीरियड में कारगर और 100% लाभदायक।


पीरियड को जल्दी लाने, बंद होने पर, कष्ट पूर्ण होने पर, शरीर कष्ट होने पर और अनिमियत पीरियड में कारगर और 100% लाभदायक।


            नारी पीरियड कल्पचुर्ण
गिलोय चूर्ण 10 ग्राम 
आंवला चूर्ण 10 ग्राम 
छोटी हरड़ 10 ग्राम 
तुलसी पाचांग-10 ग्राम  
चरायता चूर्ण 10 ग्राम 
तिल काले 10 ग्राम
अलसी 10 ग्राम
अजमायण-10 ग्राम 
मलॅठी-10 ग्राम 
सौंठ-20 ग्राम 
काली मिर्च -10 ग्राम 
सभी चुर्ण को 50 ग्राम एलोवेरा रस में भावना दे।चुर्ण बना कर दिन में 3 या 4 बार गर्म  दूध से सेवन करे।
                   ★फायदे★
★इसका कोई साइड इफेक्ट्स नही है★
★ 3 दिन में पीरियड आ जाता है
★अगर पीरियड बंद हो गए हो 21 दिन दवा ले।
★पीरियड जल्दी आएगा।
★पीरियड में दर्द नही होगा।
★कमजोरी और सुस्ती नही पड़ेगी।
★अगर गर्भ ठहर गया है तो पुरियड बिन दर्द के आएगा।
★पीरियड दौरान गुसा नही आएगा
★खून की कमी ठीक होगी।
नोटः
अगर यह समान आप को न मिले तो ऑनलाइन मंगवा सकते हैं। यह दवा  कभी खराब नही होती ।
            आप कभी ले सकते है
           Whats 94178 62263
                       ★★★★★
              पीरियड्स जल्दी लाने के
        लिए अयूर्वादिक उपाय क्या हैं ?
                      ★★★★
       ★गिलोय काढ़ा साथ जरूर ले★
                           
                    ★कैसे बनाए काढ़ा★
★ गिलोय हरी 100 ग्राम
★छोटी हरड़ 4 पीस
★किसमिश 10 पीस
★छुहारे 5 पीस
★तुलसी पत्ते 50 पीस
★पपीता पत्ता 1पीस
★शहद 5 चम्मच
सभी सामग्री को तब तक उबाले जब तक आधा न रह जाए।
3 ग्लास बाकी बचा काढ़ा ठण्डा होने पर
1 ग्लास सुबह
1 दुपहरी
1 शाम को ले।
यह क्रिया 3 दिन लगातार करे।
पीरियड 3 दिन पका आ जाएगा
मासिक धर्म के रुक जाने का कारण
शरीर में बहुत ज्यादा आलस्य, खून की कमी, मैथुन दोष, माहवारी के समय ठंडी चीजों का सेवन, ठंड लग जाना, पानी में देर तक भीगना, व्यर्थ में इधर-उधर भ्रमण करना, शोक, क्रोध, दुःख, मानसिक उद्वेग, तथा मासिक धर्म के समय खाने-पीने में असावधानी – इन सभी कारणों से मासिक धर्म रुक जाता है या समय से नहीं होता|
मासिक धर्म के रुक जाने की पहचान
गर्भाशय के हिस्से में दर्द, भूख न लगना, वमन, कब्ज, स्तनों में दर्द, दूध कम निकलना, दिल धड़कना, सांस लेने में तकलीफ, कान में तरफ-तरह की आवाजें सुनाई पड़ना, नींद न आना, दस्त लगना, पेट में दर्द, शरीर में जगह-जगह सूजन, मानसिक तनाव, हाथ, पैर व कमर में दर्द, स्वरभंग, थकावट, शरीर में दर्द आदि मासिक धर्म रुकने के लक्षण हैं|
                   
                   हम आप की सेवा में है
         किसी भी शरीरक  स्मयसा के लिए
          निशुल्क सिद्घ अयूर्वादिक सलाह ले
            What s करें 94178 62263
        

सिद्ध कायाकल्प चुर्ण